छ.ग केसरी विशेषटेक्नोलॉजी समाचारताजा खबरबड़ी खबरेंरायपुरहमर छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में डायल-112 नंबर की शुरुवात इमरजेंसी सेवा जैसे पुलिस व एबुलेंस के लिए

4 सितम्बर 2018 से छत्तीसगढ़ के 11 शहरों में इआरव्ही सेवा की शुरुवात

रायपुर – 4 सितम्बर 2018 से छत्तीसगढ़ के 11 शहरों में इआरव्ही सेवा की शुरुवात छत्तीसगढ़ में डायल-112 नंबर की शुरुवात इमरजेंसी सेवा जैसे पुलिस व एबुलेंस के लिए है यह सेवा नियत जगह पर किसी भी प्रकार की घटनाओं की सुचना मिलने पर तत्काल 10-15 मिनट के भीतर उस जगह पर पहुच जाएगी | इस नंबर से आप चिकत्सा सुविधा से लैस एम्बुलेंस तथा पुलिस वाहन और अग्निशामक दल की सेवा का भी लाभ ले पाएंगे |

छत्तीसगढ़ में डायल-112 नंबर की शुरुवात इमरजेंसी सेवा जैसे पुलिस व एबुलेंस के लिए

 

फिलहाल यह सेवा केवाल छत्तीसगढ़ के 11 शहरो में ही शुरु की जा रही है अच्छे प्रतिक्रिया मिलने पश्चात् इसे राज्य के अन्य जिलो में भी लाया जायेगा | सूत्रों के माध्यम से पता चला है की “डायल-112 नंबर” का एक मोबाइल एप्लीकेशन भी बनाया गया है यह मोबाइल एप्प सीधे हर शहर में बनाये गए नियंत्रण कक्ष (control room)  से जुड़े रहंगे |

इसके आलावा इस एप्लीकेशन में विभिन्न प्रकार की सुविधा भी दी गई है जैसे की आप घटना  स्थल के फोटो तथा विडियो भी अपलोड कर सकते है |

अतिरिक्त SP OP शर्मा जी ने बतया है की 24 घंटे लगातार सेवा देने के लिए इस कार्य को तीन चरणों में बटा गया है और लगभग इसमें हर चरण में  45-50 कर्मचारी काम करेंगे | सभी कमचारियो को उनके अलग-अलग कार्यो के लिए बाट दिया जायेगा जैसे कुछ कर्मचारी आने वाले फ़ोन कॉल प्राप्त करंगे और कुछ मैसेज का जवाब देंगे |

डाउनलोड करेCG DIAL112 CITIZEN APP

छत्तीसगढ़ में डायल-122 नंबर की शुरुवात इमरजेंसी सेवा जैसे पुलिस व एबुलेंस के लिए
छत्तीसगढ़ में डायल-122 नंबर की शुरुवात इमरजेंसी सेवा जैसे पुलिस व एबुलेंस के लिए

“छत्तीसगढ़ में डायल-112 नंबर की शुरुवात इमरजेंसी सेवा जैसे पुलिस व एबुलेंस के लिए”बहर हाल यह सुविधा आम जनता के लिए कितनी कारगर रहेगी यह तो वक्त पर पता चल जायेगा |परन्तु लोगो के सेवा के लिए छत्तीसगढ़ सरकार के द्वरा लाई गई यह सुविधा सराहनीय है |

आगे और पढ़े

CGkesari Staff

छत्तीसगढ़ समाचार-Trending Chhattisgarh News:दिन भर की बड़ी खबरें,Chhattisgarh News - Latest Hindi News & Updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate Here »
Close